सोनिया की मौजूदगी में ‘द अनसीन इंदिरा गांधी’ का विमोचन

भारत की पूर्व प्रधान मंत्री इंदिरा गांधी के व्यक्तित्व पर लिखी एक किताब का विमोचन किया गया।  ‘द अनसीन इंदिरा गांधी’ नमक इस किताब को केपी माथुर ने लिखा है। डॉ. के पी माथुर 1966 से लेकर आखिरी वक्त तक इंदिरा गांधी के पर्सनल फिजीशियन रह चुके है। किताब का विमोचन पूर्व दिल्ली मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने किया। इस मौके पर चीफ गेस्ट कर्ण सिंह सहित दर्शक दीर्घा में खुद सोनिया गांधी मौजूद थी। इस मौके पर इंदिरा गांधी से जुड़े कई किस्सों को दोबारा याद किया गया। इस दौरान इंदिरा गांधी से जुड़ा एक किस्सा सुनाया गया। जिसके अनुसार इंदिरा गांधी जब पाकिस्तान के मुखिया जियाउल हक से मिलीं, तो प्रेस वाले काफी उतावले दिख रहे थे। जियाउल हक उनको देखकर चिंता में थे तो इंदिरा ने चुटकी लेते हुए उनसे कहा कि आप इनकी परवाह नहीं करिए। इनको कुछ नहीं आता। देखिए ये आपको लोकतांत्रिक कहते हैं और मुझे डिक्टेटर।  इस किस्से को सुनते की सोनिया गांधी मीडिया की तरफ देख कर जोर से मुस्कुराई। इस किताब के जरिये लेखक डॉक्टर माथुर ने इंदिरा के व्यक्तित्व का डिक्टेटर वाला रूप पीछे छोड़कर उनके व्यक्तित्व के मजाकिया, लगाव, ख्याल रखने वाली महिला के किरदार के बारे में लिखा है। यह किताब अब हर आॅनलाइन बुक्स स्टोर(online bookstore) पर उपलब्ध है। 

No comments:

Theme images by sndr. Powered by Blogger.