नवंबर में किशनगंज में होगा प्रथम अंतरराष्ट्रीय साहित्यिक उत्सव

किशनगंज। बिहार के किशनगंज जिले में प्रथम अंतरराष्ट्रीय साहित्यिक उत्सव का आयोजन नवंबर में किया जाएगा। किशनगंज जिले को राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय मानचित्र पर निखारने के लिए अंतरराष्ट्रीय लेखक जफ़र अंजुम ने सीमांचल अंतरराष्ट्रीय साहित्यिक उत्सव का आयोजन आगामी नवंबर में करने का निर्णय लिया है। इस महोत्सव में अन्तरराष्ट्रीय स्तर के कई लेखक शिरकत करेंगे। किशनगंज में जन्मे जफ़र अंजुम ने दो दिवसीय साहित्यिक उत्सव का नाम सीमांचल इंटरनेशनल लिटरेरी फेस्टिवल रखा है। इस साहित्यिक उत्सव में सिंगापुर,अमेरिका और इंग्लैंड के लेखकों के अलावा नामचीन लेखक अपनी किताबों (books) का विमोचन करेंगे और साहित्यिक परिचर्चा में हिस्सा लेंगे जिसमें सबा वसीर, देब्रोति धर, रहमान अब्बास जैसे नाम शामिल हैं। अंजुम ने बताया कि यह साहित्यिक उत्सव पूर्वोत्तर भारत में अपनी तरह का पहला उत्सव होगा जिसमे कई देशों के नामचीन लेखकों ने हिस्सा लेने की सहमति दे दी है। उन्होंने कहा कि यह उत्सव सीमांचल क्षेत्र के अलावा बिहार प्रदेश के साहित्य प्रेमियों के लिए मील का पत्थर साबित होगा। गुलजार साहब, स्लमडॉग मिलियनर के लेखक विकास स्वरूप और अमिताभ घोष को भी इस उत्सव में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया है। 

No comments:

Theme images by sndr. Powered by Blogger.