'बाहुबली' श्रृंखला की पहली किताब ‘द राइज ऑफ शिवगामी’ का लोकार्पण

बाहुबली 2 का सभी को इंतज़ार है। फ़िल्म 28 अप्रैल को रिलीज़ हो रही है, लेकिन फ़िल्म से जुड़ी हर इवेंट में लोगों का उत्साह देख कर समझा जा सकता है कि फैंस में इस फ़िल्म को लेकर कमाल की बेकरारी है। इसी सिलसिले में दिल्ली में जब 'द राइज़ ऑफ़ शिवगामी' किताब का लोकार्पण किया गया तो एक बार फिर से सब बाहुबली के रंग में रंग गए। यहां लेखक आनंद नीलकांतन ने बहप्रतीक्षित किताब ‘द राइज ऑफ शिवगामी’ का निर्देशक एस.एस. राजामौली के साथ लोकार्पण किया, जो ब्लॉक बस्टर फिल्म ‘बाहुबली’ का प्रीक्वेल है। कार्यक्रम में राम्या कृष्णन के साथ राणा डग्गूबाती भी मौजूद थे और कार्यक्रम स्थल के बाहर हजारों की तादाद में प्रशंसकों की भीड़ मौजूद थी। ऑईनॉक्स नेहरू प्लेस के बाहर मौजूद छात्रों से लेकर नौकरीपेशा लोग फिल्म के कलाकारों की एक झलक देखने के लिए बेसब्र थे। राजामौली ने दर्शकों से फिल्म ‘बाहुबली-2 : द कन्क्लूजन’ के लिए अगले महीने तक इंजतार करने को कहा है, क्योंकि फिल्म अप्रैल में रिलीज होगी। किताब ‘द राइज ऑफ शिवगामी’ अंग्रेजी में लांच हुई। इसके हिंदी, तमिल और तेलुगू संस्करण अप्रैल में सभी ऑनलाइन बुक्स स्टोर (Online bookstore) पर उपलब्ध होंगे। राजामौली ने यहां संवाददाताओं से कहा, यह किताब फिल्म देखने के अनुभव को बेहतरीन बनाएगी। यह बताती है कि कैसे शिवगामी फिल्म में सबसे सशक्त राजमाता बन जाती है। यह किताब 2015 की फिल्म ‘बाहुबली’ का रूपांतरण है। किताब में सिर्फ राजमाता के बारे में ही नहीं, बल्कि कटप्पा के बारे में भी बताया गया है। नीलकांतन ने कहा कि किताब में अधिकांश महिला चरित्र हैं, क्योंकि यह किताब भावनाओं के बारे में है। यह किताब ऑनलाइन बुक्स स्टोर से खरीद (Buy books online) सकते हैं.

No comments:

Theme images by sndr. Powered by Blogger.