रवीना टंडन ने लॉन्च किया ‘सीताः वॉरियर ऑफ मिथिला’ का कवर पेज

मजबूत कदकाठी और हथियारों से लैस अकेले ही दुश्मनों पर भारी पड़ रही योद्धा राजकुमारी सीता ही मशहूर लेखक अमीश त्रिपाठी (Amish Tripathi) की नई किरदार है। अमीश की यह नई किरदार मुंबई में उनकी आने वाली बुक 'सीताः वॉरियर ऑफ मिथला' के कवर पेज की लॉन्चिंग के बाद सामने आई। ‘सीताः वॉरियर ऑफ मिथला’ अमीश की रामचंद्र सीरीज की दूसरी बुक है। इस बुक में सीता की परंपरागत छवि से हटकर अलग छवि दिखाने की कोशिश की गई है. बुक में बताया गया है कि वह सिर्फ भगवान राम की सुशील और आज्ञाकारी पत्नी ही नहीं बल्कि बहादुर योद्धा भी थीं। किताब में सीता की छवि एक दत्तक बेटी से एक योद्धा राजकुमारी और आखिर में कई चुनौतियों का सामना करने वाली देवी के तौर पर दिखाई गई है। रवीना टंडन ने रिलीज़ के मौके पर प्राचीन भारत को याद किया। रवीना टंडन ने कहा कि प्राचीन भारत में महिलाओं को अधिक सम्मान प्राप्त था और उन्हें उस दिन का बेसब्री से इंतजार है जब एक दिन वह दौर वापस आएगा। एक्ट्रेस रवीना टंडन ने प्राचीन भारत को याद किया है। वो चाहती हैं कि जिस प्रकार प्राचीन भारत में महिलाओं को सम्मान मिलता था वही सम्मान एक बार फिर मिले। दरअसल, अमीष त्रिपाठी की नई बुक 'सीता - द बॉरियर अॉफ मिथिला' को रवीना ने एक कार्यक्रम में रिलीज़ किया। इस दौरान रवीना टंडन ने कहा, ''इस किताब का खासकर महिलाएं बहुत बेसब्री से इंतजार कर रही थी क्योंकि हमारे देश के प्राचीन भारत में महिलाएं काफी ताकतवर थीं। हम महिलाएं अपनी पसंद की जिंदगी जीने को लेकर स्वतंत्र थीं। मुझे लगता है वह दौर वापस आना चाहिए। इस किताब के माध्यम से अमीष त्रिपाठी हम सभी में सीता का निर्माण कर रहे हैं। सीता मैय्या की जय हो।'

No comments:

Theme images by sndr. Powered by Blogger.